रुद्रपुर – आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए तमाम राजनीतिक दलों ने कमर कसना शुरू कर दिया है। एक के बाद एक ताबड़तोड़ रैलियां जनसभाओं का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में आज कांग्रेस महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष कु नेटा डिसूजा रुद्रपुर महिला सम्मेलन में पहुची। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका फूल मालाओं और आतिशबाजी कर स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि आज देश मे महिलाओ से सम्बंधित अपराधों की संख्या में इजाफा हुआ है। महंगाई आज अश्मान छू रही है। देश और प्रदेश में बेरोजगारी बड़ी है और देश प्रदेश की भाजपा सरकार सिर्फ जुमले बाज़ी कर रही है। देश मे लगातार महंगाई बढ़ने से महिलाओ के किचन का बजट बिगड़ चुका है। उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार सालों में प्रदेश में विकास के कार्य पूरी तरह ठप हो चुके है। मीडिया से मुख़ातिब होते हुए कहा कि पाँच राज्यो में होने वाले चुनाव में इस बार महिलाये सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आवाज उठा रही है। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी ने ना सिर्फ यूपी में महिलाओ को चुनाव में 40 फीसदी आरक्षण देते हुए चुनाव लड़ने के लिए प्रेरित किया है बल्कि एक नारा भी दिया है लड़की हूं लड़ सकती हूँ इस नारे से देश की महिलाये खुश है बल्कि इस नारे से वह अपनी भूमिका निभाने के लिए मैदान में उतरे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में किसी भी सीट को लेकर खींचतान नही है अगर कही पर होगा तो पार्टी बैठक कर उस समस्या को सुलझा लेगी। उन्होंने दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पर बोलते हुए कहा कि जो गारंटी उन्होंने प्रदेश की महिलाओ को दी है। वह सिर्फ एक छलावा है। दिल्ली में किये वादे अब तक पूरा नही कर पाए देश की राजधानी दिल्ली में महिलाओ से सम्बंधित अपराध बढ़ रहे है सड़को का बुरा हाल है। केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को ठगा है देवभूमि के लोगो को नही ठग पाएंगे।

यह भी पढ़ें :  कोतवाली पुलिस तलाश रही जूते चोर को, रिटायर्ड अधिकारी की तहरीर पर मुकदमा हुआ दर्ज

महिला सम्मेलन कर मीना शर्मा ने दिखाया कांग्रेस देवेदारो को आइना
रुद्रपुर विधानसभा में अब तक कांग्रेस पार्टी के क़ई कार्यकर्ता अपनी दावेदारी ठोक चुके है। लेकिन टिकट की लाइन में सबसे पहले पायदान में खड़ी पूर्व पालिका अध्यक्ष व प्रदेश उपाध्यक्ष मीना शर्मा ने आज महिलाओ का सम्मेलन करा कर अपनी दावेदारी को और भी पुख्ता कर अन्य देवेदारो को आइना दिखाने का काम किया है। सम्मेलन में आई महिलाओ की संख्या से अंदाजा लगाया जा सकता है कि मीना शर्मा के आगे अन्य दावेदार फीके साबित होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here