शान्तिपुरी – जनपद में एक के बाद एक वीआईपी दौरे का फायदा माफियाओं को मिल रहा है। आलम ये है कि वीआईपी दौरे पर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन डटा हुआ है और इधर खनन माफियाओं और लकड़ी तस्करों की पो बाराह हुई है। किच्छा तहसील के गड़रिया बाग के पिको फार्म में पिछले तीन दिनों में लकड़ी तस्कर और खनन माफिया लगातार अवैध पातन और खनन में लगे हुए है और मामले की किसी को कानो कान खबर तक नही लगी। न्यूज़ शिखर की टीम को जब अवैध खनन और लकड़ी तस्करी की बात पता चली तो टीम तत्काल मौके पर पहुची तो आलम ये था जगह जगह पापुलर के पेड़ों को तस्करों द्वारा काटा गया था।
साथ ही फार्म से अवैध खनन भी किया गया था। वही मामले में जब तहसीलदार जगमोहन त्रिपाठी से इस बाबत पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सम्बन्धित मामले में वन विभाग को पूर्व में ही छपान कार्य के लिए बता दिया गया था। रेंजर अनिल जोशी ने बताया कि मामले में डीएफओ द्वारा उधम सिंह नगर के जिलाधिकारी और वन विकास निगम को सम्बन्धित प्रभाग के खाते में धनराशि के लिए पत्र लिखा गया था। इससे पूर्व एक भी प्रशासन को पत्र लिखा गया था लेकिन छपान कार्य के लिए अब तक कोई भी धनराशि नही मिली है।
यह भी पढ़ें :  केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट की नाराजगी के बाद सीएमओ का तबादला, जिला चिकित्सालय की सौपी गयी जिमेदारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here