गदरपुर – उधम सिंह नगर जनपद में एक सख्स को रामलीला कमेटी की फर्जी कार्यकारणी गठित कर चंदा वशूलने व समिति के बैंक खाते को फर्जी दस्तावेजो के आधार पर छेड़छाड़ करने के मामले में कोर्ट के आदेश पर गदरपुर पुलिस ने तीन आरोपियो के खिलाफ अभियोग पंजीकृत किया था। मामले में दस्तावेजो की जाच के लिए देहरादून विधि विज्ञान भेजा गया था। मामले में रिपोर्ट आने के बाद गदरपुर थाना पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर आज कोर्ट में पेश किया। दरअसल गदरपुर स्थित पुरातन शिव मंदिर के अध्यक्ष जय किशन अरोरा ने लगभग 6 माह पूर्व कोर्ट के माध्यम से तीन लोगों के खिलाफ मन्दिर कमेटी की फर्जी कार्यकारणी गठित करने, कमेटी का लेटर हैड बनाने व फर्जी दस्तावेजों से मन्दिर समिति के बैंक खाते से छेड़छाड़ करने ओर लोगो से चंदा लेने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया था। मामले में पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर तीन आरोपी विनोद सिंह फौगाट निवासी सरस्वती विहार वार्ड नंबर 1 गदरपुर, वेद प्रकाश भगत निवासी वार्ड नंबर 7, पंजाबी कालोनी, गदरपुर, सुनील कुमार जैन निवासी वार्ड शिव मंदिर कालोनी गदरपुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। जाच के दौरान दस्तावेजो को देहरादून विधि विज्ञान भेजे गए थे। 6 माह बाद जांच आख्या आने के पश्चात पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए मामले के मुख्य आरोपी विनोद सिंह फौगाट को रुद्रपुर से गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने दोपहर बाद आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया।
एसपी क्राइम मिथलेश सिंह ने बताया कि फरवरी माह में कोर्ट के आदेश पर अभियोग पंजीकृत किया गया था। आज पुलिस ने मुख्य आरोपी को रुद्रपुर किराए के मकान से गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया है।
यह भी पढ़ें :  पाँच साल बाद दर्ज हुआ युवती के अपहरण का मुकदमा,  31 मई 2016 को हैदराबाद से पन्तनगर लौट रही थी युवती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here