कोर्ट के आदेश पर तीन आरोपियो के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बाजपुर – कोर्ट के आदेश पर बाज़पुर कोतवाली पुलिस ने धोखाधड़ी कर जमीन हड़पने के मामले में तीन आरोपियो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जाच शुरू कर दी है। पुलिस को सौपी तहरीर में कहा गया है कि जागीर कौर निवासी ग्राम हुलसनगंज थाना बाज़पुर me 1.414 एकड़ भूमि है। अप्रेल 2017 को प्राथी को बैंक ऋण की आवश्यता हुई तो इस दौरान मोहन चन्द्र जोशी निवासी ग्राम बरहैनी द्वारा उन्हें बैंक से पाँच लाख का ऋण दिलवाने के लिए प्रार्थिनी के आधार कार्ड, फोटो, खतौनी, खसरा व कुछ खाली कागजों पर प्रार्थिनी अंगूठे व प्रार्थिनी के पुत्र अमरीक सिंह के हस्ताक्षर लगवाकर ले लिया तथा विश्वास दिलाया कि वह 2-3 महीनों में प्रार्थिनी को 5,00,000/- (पांच लाख रुपये) का ऋण बैंक से दिलवा देगा तथा यह भी कहा कि मेरी बाजपुर-बरडैनी के बैंकों में काफी अच्छी जान पहचान है। क़ई दिन बीत जाने के बाद प्रार्थिनी के द्वारा मोहन चन्द्र जोशी से ऋण दिलाने के बारे में पूछा तब आरोपित  मोहन चन्द्र जोशी के द्वारा प्रार्थिनी को बार-बार बहाने बनाकर टाल दिया। जब 6-7 माह बाद भी ऋण नही मिला तो प्रार्थिनी के द्वारा अपने कागज वापस मांगने पर मोहन चन्द्र जोशी के द्वारा प्रार्थिनी की खसरा खतौनी व आधार कार्ड वापस कर दिये तथा अंगूठे लगे पेपर यह कहकर देने से मना कर दिया कि वह कही गिर गये है। माह फरवरी 2018 में मोहन चन्द्र जोशी अपने साथ बिशन दत्त पाण्डेय व नारायण दत्त व अन्य लोगों को साथ लेकर प्रार्थिनी की आराजी व घर पर कब्जा करने की नियत से आये और कहने लगे कि तेरी भूमि व मकान का इकरारनामा हो गया है। पीड़िता ने आरोप लगाते हुए कहा कि मोहन चन्द्र जोशी ने बिशन दत्त पाण्डेय उपरोक्त व नारायण दत्त निवासी ग्राम ऊंचा पुल तहसील व थाना बाजपुर के साथ मिलकर षडयन्त्र के तहत धोखाधड़ी से प्रार्थनी का अंगूठे लगे कागजों पर फर्जी तरीके से प्रार्थनी उक्त वर्णित जमीन व घर का फर्जी इकरारनामा बनवा लिया है, जिसके आधार पर यह लोग प्रार्थिनी की आराजी व घर को हड़पना चाहते हैं, जबकि प्रार्थिनी के द्वारा मोहन चन्द्र जोशी अथवा अन्य किसी व्यक्ति से कोई भी पैसा प्राप्त नही किया और न ही कोई इकरारनामा बिशन दत्त पाण्डेय के पक्ष में लिखाया। 22 जनवरी 2021 को मोहन चन्द्र जोशी अपने साथ 3-4 अन्य लोगों को साथ लेकर प्रार्थिनी के घर आ गया और गन्दी गन्दी गालियां देते हुये कहने लगा कि तुम जल्दी जल्दी यह घर पर जमीन खाली कर निकल जाओ, यदि तुमने घर व जमीन खाली नहीं की तो तुझे व तेरे पुत्र अमरीक सिंह को जान से मरवा देंगें। पीड़िता द्वारा मामले की सूचना पुलिस चौकी बरहनी, कोतवाली बाज़पुर व एसएसपी के दरबार भी पहुची लेकिन कोई कार्यवाही नही कि गयी। यही नही महिला द्वारा सीएम हेल्प लाइन में भी शिकायत की गई। जिसमें भी कोई कार्यवाही नही हो पाई। बाद में पीड़िता द्वारा कोर्ट की शरण ली गयी। जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने आरोपियो के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कर जाच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें :  4 साल पहले उड़ीसा (पुरी) से गायब हुए युवक उधम सिंह नगर पुलिस को हुआ बरामद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here