काशीपुर – स्कूल खुलने के बाद काशीपुर क्षेत्र की उप शिक्षा अधिकारी निरीक्षण के लिए निकली थी। लेकिन उनका निरीक्षण प्राइमरी विद्यालय सीता रामपुर में ही जा सिमटा। निरीक्षण के दौरान वह स्कूल गेट में लगे ताले को देख दंग रह गयी। स्कूल के बच्चे स्कूल से बाहर गेट में शिक्षकों के आने का इंतज़ार कर रहे थे। जिसके बाद उप शिक्षा अधिकारी ने खुद गेट के बाहर बच्चो को पढ़ाया ओर जब शिक्षक स्कूल नही पहुचे तो उन्होंने गेट फाद कर स्कूल के कमरे में बच्चो को साढ़े 11 बजे तक पढ़ाया। जानकारी के मुताबिक कल उप शिक्षा अधिकारी गीतिका जोशी सुबह 8 बजे प्राथमिक विद्यालय सीतारामपुर पहुंची, लेकिन उन्हें स्कूल बंद मिला स्कूल में ना तो शिक्षक पहुंचे और ना ही भोजन माता आई। जबकि स्कूल में पंजीकृत सभी 30 बच्चे स्कूल के गेट के बाहर पहुंच गए एबीईओ ने गेट के बाहर ही बच्चों को पढ़ाना शुरू कर दिया करीब आधा घंटा इंतजार करने के बाद भी शिक्षक के नहीं पहुंचने पर एबीईओ के साथ ही बच्चे गेट कूदकर स्कूल के अंदर दाखिल हुए। जहां खुले पड़े एक कक्षा कक्ष में बच्चों को बिठाकर एबीईओ ने निर्धारित समय 11 बजे तक तक खुद क्लास ली। एबीईओ ने कहा कि अभी 2 दिन स्कूल खुले हुए हो रहे हैं ऐसे में शिक्षक का ना आना और स्कूल बंद होना घोर लापरवाही है। शिक्षक का वेतन काटने के साथ ही उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।
यह भी पढ़ें :  20 हजार का इनामी माओवादी गिरफ्तार, पुलिस और एसटीएफ की टीम द्वारा दबोचा, 4 सालो से चल रहा था फरार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here