नैनीताल – कालाढूंगी से नैनीताल लिफ्ट मांग कर घर लौट रही युवती से अंधेरे का फायदा उठा कर बाइक सवार युवक उसके साथ छेड़ छाड़ करने लगा। युवती के शोर शराबा करने पर आसपास के दुकानदार मौके पर पहुचे। लेकिन आरोपी अंधेरा का फायदा उठा कर भाग खड़ा हो गया। बाद में युवती अपने परिजनों संग थाने पहुची ओर अरोपित के खिलाफ कार्यवाही की मांग करने लगी। वही थाना पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर जाच शुरू करते हुए मुक़दमा दर्ज करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को सौपी गयी तहरीर पर बताया गया है कि पीड़िता काशीपुर में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के रूप में तैनात है। मंगलवार को वह काम खत्म करने के बाद वह काशीपुर से नैनीताल को आ रही थी। कालाढूंगी तक एक वाहन में आने के बाद वह देर शाम करीब 6:45 बजे कालाढूंगी चौराहे पर वाहन का इंतजार कर रही थी। तभी चौराहे पर तैनात कुछ पुलिसकर्मियों ने एक बाइक सवार को पुलिस विभाग में ही कार्यरत बताते हुए उसमें लिफ्ट लेने की सलाह दी। युवक को पुलिस कर्मी जानकर वह लिफ्ट लेकर उसके साथ आ गई। आधा रास्ता तय करने के बाद युवक ने सुनसान क्षेत्र में बजून के पास बाइक रोक दी और उससे बदतमीजी और गंदी हरकते करने लगा। जब उसने विरोध किया तो वह खुद को पुलिसकर्मी बताकर जान से मारने की धमकी देने लगा। किसी तरह वह खुद को युवक के चुंगल से छुड़ाकर भागी और चीखना चिल्लाना शुरू किया। पास में मौजूद दुकानदार और गांव वालों ने जब आवाज सुनी तो वह मदद के लिए पहुंचे। इसी बीच युवक मौका देख कर फरार हो गया। किसी तरह उसने दुकानदार के फोन से परिजनों को सूचना दी। सूचना के बाद परिजन उसे बजून से नैनीताल लेकर आये। युवती का आरोप है कि पुलिसकर्मी बदनीयती से सुनसान स्थान पर उसकी मजबूरी का फायदा उठाना चाहता था। साथ विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दे रहा था। वही पुलिस ने आरोपी संजय देव को गिरफ्ताफ कर लिया है। आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। आरोपी को पुलिस कल कोर्ट में पेश करेगी।

यह भी पढ़ें :  आयकर विभाग ने 32 से अधिक परिसरों में चलाया छापेमारी अभियान, 2.10 करोड़ की नगदी व 1.07 करोड़ के आभूषण जफ़्त

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here