• 10 दिनों से कर रही थी टीम रैकी
  • पूर्व में भी वन्यजीवों के अंगों की कर चुके है तस्करी

नैनीताल – उत्तराखंड एसटीएफ की कुमाऊं यूनिट ने  वन्य जीव तस्करी के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है आरोपियों के पास एक लेपर्ड की खाल तीन लेपर्ड के दांत व एक अल्टो कार भी बरामद की है।  आरोपियों के खिलाफ वन्य जीव अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। एसटीएफ की टीम को सूचना मिली थी कि नैनीताल जनपद के भवाली क्षेत्र से वन्य जीव अंगों की तस्करी होनी है जिसके बाद एसटीएफ उत्तराखंड की कुमाऊ टीम को एक्टिव कर भवाली पुलिस के साथ मिलकर संयुक्त अभियान चलाया गया 10 दिनों की रैकी के बाद आज टीम ने दो आरोपियों को लेपर्ड की खाल और उसके अंगों के साथ गिरफ्तार किया है। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने अपना नाम अनिल कुमार जोशी निवासी ग्राम श्यामखेत, भवाली, विनोद कुमार आर्य निवासी कालीपुर गौलापार हल्द्वानी बताया। आरोपियों ने बताया कि वह लेपर्ड की खाल भवाली वन प्रभाग से लेकर आए हैं जो लगभग 1 वर्ष पुराना है। जिसको जंगल में फंदा लगाकर गले में किसी धारदार हथियार से मारा गया है। वह पहले भी कई बार अवैध वन्यजीवों की तस्करी पहाड़ों से उत्तर प्रदेश वह दिल्ली में कर चुके हैं।  आरोपी लेपर्ड की खाल को उत्तराखंड में किस किस से प्राप्त करते हैं तथा उत्तर प्रदेश में किस-किस को सप्लाई करते हैं इस संबंध में पुलिस व एसटीएफ की टीम पूछताछ कर रही है।

गिरफ्तार करने में शामिल रही ये टीम –

यह भी पढ़ें :  नशे के लिए मेडिकल स्वामी के घर मे कर दी लाखो की चोरी, टीम ने ज्वेलरी ओर नगदी सहित दबोचा

एमपी सिंह कुमाऊ यूनिट एसटीएफ इंचार्ज, एसआई ऐसी केजी मठपाल,ब्रिज भूषण गुरानी, सर्विलांस एक्सपर्ट प्रकाश भगत, कांस्टेबल प्रमोद रौतेला, नवीन कुमार, गुणवंत सिंह, महेंद्र गिरी, किशोर कुमार, मनमोहन सिंह, रियाज अख्तर, शेखर महलोत्रा, भवाली थाना टीम एसआई प्रकाश मेहरा,कांस्टेबल अजय कुमार

एसटीएफ एसएसपी ने बताया कि कुमाऊं के जंगलों में वन्य जीव जंतुओं की शिकार करने की काफी समय से जानकारी मिल रही थी जिस पर सीओ एसटीएफ कुमाऊं परी क्षेत्र को निर्देशित किया था जिसके क्रम में आज टीम द्वारा एक लेपर्ड की खाल व 3 दांत के साथ 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया हैं आरोपियों से पूछताछ के दौरान कई अहम जानकारियां मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here