बाजपुर – लोगो को ट्रेक्टर से नदी पार करा रहा टैक्टर तेज़ बहाव की चपेट में आ कर पलट गया। जिसमें सवार 6 लोगो मे से 4 ने तैर कर जान बचाई। जबकि एक महिला व उसकी पुत्री तेज़ बहाव में बह गए। घटना की सूचना पर प्रशासनिक अमला भी मौके पर पहुच कर माँ और बेटी की तलाश में जुटा हुआ है। अब तक कोई भी सफलता हाथ नही लग पाई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सीतापुर कालोनी निवासी मंगल सिंह और उसकी पत्नी मुन्नी देवी अपनी सात वर्षीय पुत्री सिमरन कोसी पार ग्राम गुलजारपुर में खेतीहर मजदूरी करते थे। मजदूरी करने के दौरान मुन्नी देवी ने अपने पति मंगल सिंह से घर जाने की जिद की तो वह उसे लेकर कोसी नदी तक पैदल ले आया और वहां कोसी पार जाने के लिये किराये पर ले जाने वाले एक ट्रैक्टर पर सवार हो गये। इसी बीच एक महिला और पुरुष सवारी भी ट्रैक्टर पर बैठ गयी। ट्रैक्टर चालक ने जैसे ही नदी के बीच में ट्रैक्टर को डाला तभी अचानक कोसी नदी में तेज बहाव आ गया और ट्रैक्टर असंतुलित हो कर पलट गया। ट्रैक्टर के पलट जाने से उस पर सवार सभी लोग नदी के तेज बहाव में फंस गये। एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार बताया कि इस दौरान वाहन चालक मालिक और एक महिला व पुरुष कुल तीन लोग किसी तरह अपनी जान बचाकर बाहर निकल आये। इसी बीच मंगल सिंह भी पानी से बाहर निकलने में सफल रहा पर मुन्नी देवी और उसकी सात वर्षीय मासूम पानी से बाहर नही निकल पाये। वहीं घटना की सूचना तत्काल ही आसपास के तमाम ग्रामों में फैल गयी। घटना की सूचना पर ग्रामीणों का जमावड़ा लग गया। जिसके कुछ देर बाद पुलिस प्रशासन, जिला प्रशासन और एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पूछ कर दोनों माँ बेटी की तलाश में जुट गए। अंधेरा होने के कारण ओर कोसी नदी के बहाव के चलते राहत बचाव में टीम को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक ट्रैक्टर में घटना के वक्त तीन बाइके तथा 5 लोग सवार थे। प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि नदी पार करके यह रास्ता काफी छोटा पड़ जाता है जबकि बाजपुर जाने के लिए काशीपुर होकर जाना पड़ता है।  उनके मुताबिक ट्रैक्टर में ट्रैक्टर चालक समेत कुल 6 लोग सवार थे।
यह भी पढ़ें :  रैणी क्षेत्र में आई त्रासदी को लेकर पूर्व सीएम ने की सीएम से मुलाका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here