Saturday, May 21, 2022
No menu items!
spot_img
Homeअपराधहत्या के आरोपी को पेशी के दौरान छुड़ाने की थी प्लानिग, पुलिस...

हत्या के आरोपी को पेशी के दौरान छुड़ाने की थी प्लानिग, पुलिस ने दो बदमासो को किया गिरफ्तार

रूद्रपुर – उधमसिंहनगर पुलिस की सतर्कता से कोर्ट रूम में गोलियां बरसाकर हत्या के मामले में पेशी पर आने वाले मुजरिम को छुड़ाने की बड़ी साजिश को नाकाम किया है। पुलिस ने दो शूटरों को गिरफ्तार किया है। जबकि चार आरोपी फरार चल रहे है। उनके कब्जे से दो असलहे बरामद हुए हैं। पुलिस कार्यालय में डीआईजी और एसएसपी ने संयुक्त प्रेस कॉन्फेंस में बताया कि 2018 में किच्छा में हुए समीर हत्याकांड में जेल में बंद हार्डकोर क्रिमिनल अंग्रेज सिंह  की 20 अप्रैल को रुद्रपुर जिला कोर्ट में अंतिम पेशी थी। कल सुबह पुलिस को इनपुट मिला था कि अंग्रेज को कोर्ट से छुड़वाने के लिए बदमाश आने वाले हैं। जिसके बाद कोर्ट परिसर में कार से पहुंचे 2 बदमाशों रिंकू और उदयवीर को असलहों सहित पकड़ लिया गया। रिंकू ने बताया कि अंग्रेज की जमानत नहीं हो पा रही थी, इसलिए अंग्रेज को कोर्ट रूम में गोलियां चलकर छुड़ाकर ले जाने की साजिश रची गयी थी। साजिश में 4 और लोगों को शामिल किया गया था। उनकी गिरफ्तारी के बाद साथी फरार हो गए। डीआईजी ने बताया कि रिंकू और उदयवीर पेशेवर मुजरिम हैं और उनपर अपहरण, हत्या के केस दर्ज हैं। फरार चारों बदमाश उधमसिंहनगर के रहने वाले हैं। इस मामले में बदमाशों पर गैंगेस्टर लगाया जाएगा। बताया कि समीर हत्याकांड में कस्टडी से फरार हुए राजा की गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं।
जेल में ही लिखी गई थी अंग्रेज सिंह को छुड़ाने की पटकथा
कोर्ट परिसर में दो असलाहो के साथ दो आरोपियों को कल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी किच्छा में हुई समीर हत्या कांड के मुख्य आरोपी अंग्रेज सिंह को पेशी के दौरान छुड़ा ले जाने की तैयारी में थे। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी रिंकू और उदयविरेंद्र उर्फ उदयवीर की मुलाकात अंग्रेज सिंह से हल्द्वानी जेल में हुई थी। तीनों ही आरोपी एक बेरिख में रहते थे। यही से तीनों के बीच नजदीकी हुई और वही पर अंग्रेज सिंह को पेशी के दौरान छुड़ा कर ले जाने की पटकथा लिखी गई। जिसके बाद रिंकू और उदय विरेंद्र ने अपने साथी सन्नी जौहरी,जुगराज सिंह,मोनू चीमा और मोनू चीमा निवासी उधम सिंह नगर के साथ मिल कर कल अंग्रेज सिंह को छुड़ाने का प्लान तैयार हुआ था। लेकिन पुलिस की  सतर्कता से बड़ा हादसा होते होते टल गया।
यह भी पढ़ें :  बिना लाइसेंस के आबादी क्षेत्र में चल रहा था पटाखो का भंडारण, एसओजी ने की कार्यवाही
- Advertisement -
Google search engine
News Shikharhttp://newsshikhar.com
तेजी से बढ़ता हुआ उत्तररखण्ड का न्यूज़ पोर्टल
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments