Sunday, May 22, 2022
No menu items!
spot_img
Homeअपराध11 साल से जिंदा समझ कर पत्नी कर रही थी तलाश,पुलिस ने...

11 साल से जिंदा समझ कर पत्नी कर रही थी तलाश,पुलिस ने जांच की तो हुआ चौकाने वाला खुलासा 

रुद्रपुर
कोतवाली क्षेत्र में 11 साल पूर्व अचानक घर से गायब होने के मामले में आज एसएसपी ने खुलासा करते हुए बताया की 11 साल पूर्व गायब हुए सख्स की हत्या की गई थी। आरोपी और कोई नही मृतक के सौतेले भाई निकला पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया है। आरोपी के खिलाफ धाराओं में बढ़ोतरी कर कोर्ट में पेश करने की तैयारी की जा रही है। पुलिस के मुताबिक 1 अगस्त 11 को कृष्णा देवी निवासी सुभाष नगर ने कोतवाली पुलिस को तहरीर सौप कर बताया की  उसका पति भोनू साहनी 23 जुलाई 11 से गायब चल रहा है। घटना के समय वह किसी काम से बिहार गई हुई थी। घर लौटने पर उसके बच्चो ने इसकी जानकारी उसे दी। जिसके बाद उसके द्वारा पति को काफी तलाश किया गया लेकिन उसका कोई भी सुराग नहीं लग पाया। पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदम दर्ज कर विवेचना शुरू की गई। लेकिन भौनू साहनी का कोई भी सुराग नहीं लग पाया। मामले में विवेचन द्वारा न्यायलय में साक्ष्यो के अभाव में अंतरिम रिपोर्ट प्रेषित कर दी गई। इसी दौरान प्रदेश में चलाए जा रहे अभियान  गुमशिदगी और लावारिशो की सीनाख्त में पुलिस टीम गुमशुदा भौनू साहनी की पत्नी से मुलाकात की गई। मामले से पूछताछ के दौरान बताया की जब पति गायब हुआ था उसी उसका देवर छूटकन साहनी बिहार चला गया था। लेकिन अब वह वहा पर भी नही रह रहा है। आसपास पूछताछ के दौरान जानकारी हुई की गायब होने से पूर्व दोनो भाईयो का किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। जिसके बाद छूटकन साहनी उनसे अलग रहने लगा था। जिसके बाद टीम एक्टिव हुई और आरोपी छूटकन साहनी के बारे में पता लगाना शुरू किया। इसी बीच मुखबिर द्वारा बताया गया की छूटकन साहनी देहरादून में रह रहा है। जिसके बाद टीम पूछताछ के लिए देहरादून पहुंची तो उसके द्वारा ठीक जानकारी नहीं दी गई। उसे शक हुआ की भौनू साहनी की हत्या का पता चल गया है और वह अपनी भाभी के पास माफी मानने के लिए पहुंच गया। जिसकी सूचना पुलिस को लग गई। जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेते हुए सख्ती से पूछताछ की तो वह टूट गया और 23 जुलाई 11 की रात्रि में अपने सौतेले भाई की हत्या करना कबूल किया साथ ही उसके शव को कट्टे में डाल कर रोडवेज से आगे नाले में फेकने की बात कबूल की। जिसके बाद पुलिस ने पुरानी फाइलों को टटोला तो 26 जुलाई 11 में उसी नाले में 32 वर्षीय एक युवक का शव कट्टे में बरामद हुआ था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमे में धारा 302,201,364,365 आईपीसी की धाराओं की बढ़ोतरी कर कोर्ट में पेश करने की तैयारी कर रहा है।
यह भी पढ़ें :  जिगर के टुकड़े की हत्या करने में नहीं कांपे हाथ, खुद भी लटकी फंदे में माँ
- Advertisement -
Google search engine
News Shikharhttp://newsshikhar.com
तेजी से बढ़ता हुआ उत्तररखण्ड का न्यूज़ पोर्टल
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments