रुद्रपुर – जमीनी विवाद को लेकर एक पक्ष ने परिवार के सबसे बुजुर्ग सख्स को मौत के घाट उतार दिया। घटना का जब खुलासा हुआ तो लोगो के जमीन खिसक गई। 9 नवम्बर को थाना नांकमता थाना क्षेत्र के ध्यानपुर में एक बुजुर्ग की गोली मार कर हत्या कर दी थी। घटना के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जाच करते हुए 6 आरोपियो को गिरफ्तार किया है। आरोपी मृतक का बेटा, बहु सहित ससुराल पक्ष के लोग है। सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है।
             गाव के ग्रामप्रधान सहित अन्य लोगो को झूठे मुकदमे में फंसाने के एक परिवार ने अपने पिता की हत्या करा दी। पुलिस ने हत्या के मामले में परिवार के दो सदस्यों सहित चार अन्य अभियुक्त को गिरफ्तार किया है। अब पुलिस आरोपियो को जेल भेजने की तैयारी कर रही है। एसएसपी दलीप सिंह कुँवर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 9 नवम्बर की रात्रि में पुलिस को सूचना मिली थी कि नांकमता थाना क्षेत्र के ध्यानपुर में एक वृद्ध जगीर सिंह को गोली मार दी है। जिसके बाद परिजन उन्हें अस्पतला ले गए है जहा पर डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पर पहुची पुलिस ने मौका मुआयना कर जानकारी एकत्रित की गई। पूछताछ में मृतक की समदन राजविंदर कौर और उसकी बेटी लविंदर कौर ने बताया कि उनका ग्राम प्रधान  ध्यानपुर समर सिंह व बलविंद्र सिंह,लखविंदर सिंह,द्वारिका प्रसाद,सुंदर सिंह, जितेंद्र सिंह, धमेंद्र सिंह, से जमीनी विवाद चल रहा था। जिसकारण उन्होंने घर मे आ कर बाहर अगन में सो रहे जगीर सिंह पर गोली चला दी। जिसके बाद पुलिस ने उनके घरों में दबिश दी तो सभी घर मे सोते हुए पाए गए। शक होने पर जब पुलिस ने जाच की तो मामला कुछ और ही प्रतीत हुआ। 10 नवम्बर को एसओजी और थाना पुलिस द्वारा जसवंत सिंह को गिरफ्तार कर सख्ती से पुछताछ की तो अभियुक्त जसवंत सिंह ने जगीर सिंह पर गोली चलाने की बात कबूल करते हुए बताया कि दूसरे पक्ष के लोगो को फसाने के लिए मृतक की बहू,बेटे सहित समधन ने अपनी बड़ी बेटी और बेटे के साथ मिल कर जगीरा सिंह पर गोली चलाने और आरोप ग्राम प्रधान सहित अन्य लोगो पर लगाने के लिए षड्यंत्र रचा गया था। जिसके लिए उन्होंने उन्हें 50 हजार रुपये देने की बात कही थी। एडवांस के रूप में उन्होंने 15 हजार रुपये, एक पोनिया 12 बोर की दी थी। 9 नवम्बर की रात्रि में आरोपी लविंदर कौर ओर राजविंदर कौर ने जगीर सिंह व उसे शराब पिलाई बाद में जगीर सिंह पर गोली मरवा दी। जिसकारण उसकी मौत हो गयी। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने घटना में प्रयुक्त हथियार व 15 हजार रुपये बरामद करते हुए अन्य 5 आरोपियो को गिरफ्तार किया गया। कल आरोपितों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजा जाएगा।
यह भी पढ़ें :  किस जनपद के जिलाधिकारी ने रोका सीएमओ का वेतन ? - पढ़े पूरी खबर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here