आखिर कार पुलिस और एसटीएफ ने किया माओवादी भाष्कर पांडेय को गिरफ्तार

हल्द्वानी – लम्बे समय से फरार चल रहे माओवादी को आखिरकार एसटीएफ ओर अल्मोड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया। माओवादी भाष्कर पांडेय पिछले चार सालों से फरार चल रहा था। आरोपी को अल्मोड़ा से गिरफ्तार किया गया। माओवादी भास्कर पांडेय क़ई माओवादी घटनो में संलिप्त था ओर वर्ष 2017 से फरार चल रहा था। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रदेश की पुलिस सहित एसटीएफ जुटी हुई थी। 2017 के अल्मोड़ा और नैनीताल के लोक संपत्ति अधिनियम और विधि विरुद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत था तीन मुकदमे दर्ज हुए थे। जिसमे वह वांछिद चल रहा था। शासन के लिए 50000 का इनाम बढ़ाने हेतु प्रस्ताव भेजा गया था। पूछताछ में आरोपी भास्कर पांडेय ने बताया कि वह हल्द्वानी में एक कोरियर जिसका नाम व राजेश बता रहा था को पेनड्राइव तथा कुछ लिखित मटेरियल देने जा रहा था हल्द्वानी रेलवे स्टेशन के पास। हाल ही में वह किसान आंदोलन में भी काफी सक्रिय था। इसके अलावा भास्कर पांडे खीम सिंह बोरा का सबसे खास साथी माना जाता है जिसे यूपी एसटीएफ ने पकड़ा था। भास्कर पांडेय द्वारा माओवाद से सम्बंधित भारत में कई जगह ट्रेनिंग ली गई। वर्ष 2017 के इलेक्शन में धारी तहसील में जीप जलाई थी। उत्कृष्ट कार्य हेतु पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार द्वारा टीम को 20000 का इनाम तथा मेडल की घोषणा की गई है

यह भी पढ़ें :  एसएसपी ने घटना को बताया दुर्भाग्यपूर्ण, वीडियो वायरल ना करने की अपील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here