परिवर्तन यात्रा – पहले को कान पकड़ कर बाहर किया, दूसरे को पता ही नही चला कब उसका विवाह हुआ और कब विधवा हुआ, तीसरा लाइन में खड़ा था लेकिन बाल बाल बच गए नही तो वह भी पूर्व होते – हरीश रावत

हल्द्वानी – कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा आज किच्छा से चल कर देर सायं हल्द्वानी पहुची। इस दौरान परिवर्तन यात्रा को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ साथ युवाओं में काफी उत्साह देखने को मिला। हल्द्वानी की सड़क कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से खचा खच दिखाई दी। रामलीला मैदान में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस के नेता भाजपा की डबल इंजन कर जम कर बरसते हुए दिखाई दिए। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने सम्बोधन में कहा कि आज लोकतंत्र में गरीब की अवेहलना हो रही है। गरीब मारा जा रहा है। उन्होंने कहा की जब देश की जनता कोविड काल मे परेशान हो रहा था तब देश के 10 हजार पूंजीपतियों की संपत्ति सौ गुना बड़ी है। उन्होंने कहा कि आज की सरकार पूंजीपतियों की सरकार है। उन्होंने देश की जनता से वादा करते हुए कहा कि 2022 में उत्तराखंड में सरकार बनाएंगे और 2024 में केंद्र में सरकार में आते ही किसानों के उपर थोपे गए तीन काले कानूनों को एक सप्ताह के अंदर इन काले कानूनों को फाड़ कर यमुना में बहा देंगे। उन्होंने कहा कि सरकार आते ही रिक्त पदों को भरने का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में सत्ता में आते ही प्रदेश के रिक्त पदों को भरा जाएगा। इसके अलावा बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। महिलाओ को आत्म निर्भर बनाने के लिए पूर्व में चलाई गई योजनाओ के साथ साथ तमाम योजनाओ को चलाया जाएगा। 60 साल के बाद बुजुर्गों के लिए पेंशन योजना से जोड़ते हुए राशि को बढ़ाने का काम किया जाएगा। गेस पर दो सौ रुपये सब्सिडी देने का काम किया जाएगा। किसानों और छोटे उधोगो को दो सौ यूनिट तक बिजली मुफ्त दी जाएगी। उन्होंने मुख्यमंत्री बदलने को लेकर चुटकी लेते हुए कहा कि भाजपा ने प्रदेश पर मुख्यमंत्री थोपे है। पहले मुख्यमंत्री को विधानसभा से कान पकड कर बाहर कर दिया, दुसरे मुख्यमंत्री को पता ही नही चला कि कब उनकी शादी हुई और कब वह विधवा हो गए। तीसरे मुख्यमंत्री भी लाइन में थे लेकिन वह बच गए नही तो आज वह भी पूर्व मुख्यमंत्री होते। उन्होंने कहा कि कुंम्भ में घोटाला कर उत्तराखंड की जनता की नज़र नीचे कर दी। आज प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को एक जुट के साथ चलना है। उन्होंने कहा कि एक मंच पर तीन तीन पीढ़ियों के लोग मौजूद है। उन्होंने कहा कि आज हमारे बीच कांग्रेस की कद्दावर नेता इंद्रा हृदयेश नही है। उनके देहांत के बाद प्रदेश का सबसे बड़ा कार्यक्रम है। आज उनके आशीर्वाद की हम सब को जरूरत है। उनकी आत्मा की शान्ति के लिए एक मिनट का मोन रख कर उनका आशीर्वाद भी लिया जाए।

यह भी पढ़ें :  खाली प्लाट में मिला डिकम्पोस्ट शव, जाच में जुटी पुलिस

https://www.facebook.com/Harishrawatcmuk/videos/442196150387144/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here